सर्वे के दौरान शिक्षकों पर हुआ हमले की राज्य कर्मचारी संघ व प्रांतीय शिक्षक संघ ने की निंदा दोषियों पर कार्रवाई की मांग

 


रिपोर्टर -सोनु सालवी

आलीराजपुर कोविड19 के चलते घर घर जाकर शिक्षको द्वारा सर्वे किया जा रहा है जिसके अंतर्गत  उदयगढ़  ब्लाक के ग्राम उमेरी में शिक्षकसाथी गजराज सिंह कनेश प्रा वि अखोली दूलेसिंह कनेश मा वि  तलावद कलमसिंह प्रा वि  छोटी जुआरी सर्वे करने  गए थे  ग्रामीणों में कोरोना वैक्सीन को लेकर भांति होने से  उन्होंने शिक्षकों पर हमला कर दिया जिससे  शिक्षकों को गंभीर चोटें आई उक्त हमले की राज्य कर्मचारी संघ ,प्रांतीय शिक्षक निंदा करता है प्रशासन से दोषियों पर सख्त  कार्यवाही की मांग करता है संघ के जिलाअध्यक्ष राजेश आर वाघेला ने बताया ने  उक्त आरोपियों पर सख्त कार्यवाही की जाए ताकि कर्मचारियों में भय का माहौल ना रहे वे निडर हो कर अपना कार्य कर सके  उन्होंने कहा  जिले के समस्त शिक्षक साथी एवं सभी विभाग के कर्मचारी इस आपदा की घड़ी में  सरकार व जिला प्रशासन के साथ हैं उनके हर कदम में कदम मिलाकर चलेगा किंतु  प्रशासन को भी चाहिए के कर्मचारियों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखें एवं कर्मचारियों की ड्यूटी उनके कार्यक्षेत्र में ही लगाएं ताकि वहां रहने वाले लोगों से जान पहचान ,परिचित  होने  वे अपना कार्य  आसानी से कर सकते हैं अन्य क्षेत्र में  ड्यूटी लगने से अपरिचित होने से इस तरह की घटना होने की सम्भावना अधिक रहती है कोरोना के सर्वे में  शिक्षक के साथ कोटवाल ,या पटेल  ,एवं अन्य कर्मचारी  की भी डुयूटी लगाई जाए, जिससे एक दल होने से इस  तरह कि घटना की पुनरावृत्ति ना हो सके साथ ही कंटेनमेंट एरिया में भी जो व्यक्ति जिस नगर, गांव में निवासरत वहीं पर उसकी ड्यूटी लगाई जाए ताकि बहार रहने वाले व्यक्ति को इस कोरोना काल में लॉक डाउन की स्थिति में आने जाने में समस्या का सामना ना  करना पड़े एवं राज्य कर्मचारी संघ व प्रांतीय शिक्षक कलेक्टर श्रीमती सुरभि गुप्ता एवं जिला पंचायत सीईओ  संस्कृति जैन से मांग  करता है कि कार्यरत सभी उम्र के शिक्षक को कोरोना वेक्सीन लगाने के साथ ही  समस्त विभागों कर्मचारी चाहे वह किसी भी शासकीय  विभाग के हो किसी भी उम्र का हो कोरोना का टीका  लगवाने हेतु शिविर आयोजित करे  ताकि कर्मचारी निडर और निर्भीक होकर अपने कर्तव्य का पालन कर सकें  श्री वाघेला ने बताया  संकट इस  घड़ी में हर क्षेत्र में शिक्षक कार्य कर रहा है और अपनी जिम्मेदारी से अपने कर्तव्य  का निर्वहन कर  रहा है अब तक  प्रदेश में 150 से भी अधिक शिक्षको की कोरोना से मृत्यु हो चुकी है सरकार को भी चाहिए की वो शिक्षको कोरोना योद्धा का दर्जा दे जिससे अप्रीय स्थिति में उसका परिवार सुरक्षित महसूस कर सके  ।संघ के शरद क्षीरसागर, राकेश खेड़े ,लालसिंह डावर भंगुसिह तोमर ,राजेन राठौड़ , गुलसिह सोलंकी धमेंद्र अवास्या ,वालसिंह रावत ,कलसिंह डावर , ,पूर्णिमा व्यास, विद्या बंडोर,संगीता चावड़ा ने शिक्षकों पर हमले के आरोपीयो पर सख्त कार्यवाही करने व सभी उम्र के कर्मचारी हेतु कोरोना वैक्सीन शिविर लगाने की मांग की

Post a Comment

0 Comments