डॉ अनीता बामनिया (डावर) को पीएचडी की उपाधि



रिपोर्टर - सोनू सालवी

धार जिले के डही तहसील के ग्राम पर अतरसुमा निवासी श्रीमती अनीता बामनिया (डावर) को डीएवीवी इंदौर द्वारा समाजशास्त्र शोध में पीएचडी प्रदान की गई।


ज्ञात रहे कि अनीता बामनिया अपने ग्राम की पहली महिला होगी जो उच्च शिक्षा प्राप्त की और 2019 में चयनित सहायक  प्रोफेसर के रूप में झाबुआ में सेवारत है उन्होंने अथक प्रयास के साथ समाजशास्त्र के शोध का कार्य शासकीय महाविद्यालय अंजड़ ज़िला बड़वानी के डॉक्टर सुनील गोयल सर के मार्गदर्शन में किया शोधन कार्य पुर्ण होने पीएचडी पुर्ण होने पर डीएवीवी द्वारा डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया।




श्रीमती अनिता के  पिता श्री बीएस बामनिया ने बचपन से इनके पढ़ाई के जज्बे को देखते हुए शिक्षा में कोई कमी नहीं रखी और उन्हें अपने लक्ष्य हासिल करने के लिए प्रेरित किया

इनके पति श्री रमेश डावर ने शोधन कार्य हेतु अनेक जगह साथ जाकर प्रत्यक्ष रूप से उपस्थित रहे जिससे जो डॉ अनीता के सफल होने का प्रमाण प्रस्तुत करता है।




इनके पीएचडी से सम्मानित किए जाने पर परिवार जन में श्री डॉ के.एस. बामनिया, सूरसिंह , जोरसिँह, रायसिंह, केशर

राहुल, मेहताब, प्रताप, जितेंद्र ,

 राजेश , मलसिंह, राकेश , इंदरसिंह, मूकेश, लोकेश , अमरसिंह, सुखलाल , मुकाम , ओंकार, डोंगर, भारत ,चंदर, बोंदर ,अखलेश, कमलेश , भगत, करण, प्रियांशी डावर जानवी डावर, ललीता चौहान ,भूपेंद्र बामनिया आदि ने बताया कि डॉ अनीता बामनिया ने हमारे ग्राम के साथ-साथ परिवार का भी नाम रोशन किया है इनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं।

Post a Comment

0 Comments